gyanbooster logo
gyanbooster

Atomic Habits book review in Hindi

Introduction-परिचय

Atomic Habits किताब में आदतो के बारे में बताया गया है, यह एक मोटिवेशनल और आत्म-सुधारक बुक है जो यह सिखाती है कि छोटी-छोटी आदतें हमारे जीवन में बड़ा परिणाम ला सकती हैं। यह एक स्वस्थ, सकारात्मक और स्थिर जीवन की दिशा में हमें मार्गदर्शन प्रदान करती है।

दोस्तों दौर चाहे कोई भी हो नया या पुराना आदत ही एक ऐसी चीज है जो मानव जीवन को बना और बिगाड़ सकती है, कोई भी इंसान अपनी आदतो कि वजह से ही बनता या बिगड़ता है, हमारी आदते ही हमें हमारे भविष्य के लिये तैयार करती है, जैसी आदत हम डाल लेंगे बस उसी तरह का भविष्य भी होगा ।

इस पुस्तक Atomic Habits के लेखक जेम्स क्लियर लोगों को अच्छी आदते अपने अंदर कैसे लाई जाय के बारे में न्यूरो साइंस और मनोविज्ञान की सहायता से बताते हैं । दोस्तो यह किताब एक स्वास्थ्यपूर्ण जीवन जीने और आपको अपने जीवन स्तर को सुधारने के लिये एक महत्वपूर्ण आधार है। इस किताब में सफल जीवन के लिये जरूरी आदतों और उनके बनाने के बारे में बड़े ही अच्छे तरीके से बताया गया है ।

Atomic Habits

यह किताब (Atomic habit) उनके लिये बेहद उपयोगी है जो लोग सही में अपने जीवन में सकारात्मक बदलाव चाहते हैं, अपने लक्ष्य एवं उद्देश्य को पाना चाहते हैं, तो इस किताब के माध्यम से छोटी-छोटी आदतों में बदलाव करके इसे कैसे किया जा सकता है इसके बारे में बताया गया है।

About Author-लेखक के बारे में

Atomic Habit के किताब के लेखक का नाम जेम्स क्लियर (James Clear), जो न्यूयॉर्क टाइम्स  की एक बेस्टसेलर किताब है , जिसकी दुनिया भर में 15 मिलियन से अधिक प्रतियां बिक चुकी हैं। जेम्स क्लियर  का काम टाइम पत्रिका, न्यूयॉर्क टाइम्स, वॉल स्ट्रीट जर्नल जैसी जगहों पर दिखाया गया।

जेम्स क्लियर ने डेनिसन से अपनी स्नातक की उपाधि प्राप्त की थी और एक कोच के रूप में अपना करियर शुरू किया।, इसके बाद उन्होंने लेखन और सार्वजनिक भाषण देना शुरू कर दिया, उन्होंन लोगों को उनके आदतो और उसमें सुधार के बारे में बताना शूरू कर दिया । 2012 में उन्होंने पहली बार आत्म-सुधार के बारे में लिखना भी शुरू कर दिया । उनकी पहली किताब, एटॉमिक हैबिट्स (Atomic Habits) ही है, जिसके बारे में हम बात कर रहे हैं , यह किताब दुनिया भर में कई भाषाओं में उपलब्ध है और अभी तक इसकी 15 मिलियन से अधिक प्रतियां बिक चुकी हैं। उनके काम को द न्यूयॉर्क टाइम्स, फोर्ब्स और टाइम में भी बताया गया है।

 

S. No. Bio Detail
1. पूरा नाम जेम्स क्लियर (James Clear)
2. जन्म तिथि 1986
3. निवास हेमिल्टन, यू.एस.
4. व्यवसाय लेखक, वक्ता
5. वेबसाईट www.jamesclear.com
6. राष्ट्रीयता अमेरिकन

 

Book Summary- किताब का सारांश

आज के दौर की भगाती हुई जनता जहाँ सभी को सफलता चाहिए वो भी तुरंत बिना किसी कठिन परिश्रम के यह लगभग सभी के अन्दर आता है कि कैसे हमें बहुत सारा पैसा, सफलता और एक बड़ा मुकाम हासिल हो लेकिन इसके लिय सबसे पहले अपनी आदतों में छोटे-छोटे परिवर्तन लाने होंगे इस किताब Atomic Habit में इसकी के बारे में विस्तार से बताया गया है कि कैसे आप अपने जीवन में छोटी-छोटी आदतों को अपना कर  अपने जीवन में एक सुधार और सफलता ला सकते हैं ।

Atomic Habits के लेखक जेम्स क्लियर ने इस किताब में निम्न बिन्दुयों के माध्यम से बताया है-

  • Cue, Craving, Response and Reward- आदत बनती कैसे है
  • formula -Obvious, Attractive, Easy and Satisfying- अच्छी आदत बनाने का
  • time and place- लम्बे समय तक habit को कैसे जारी रखें
  • Tiny habits effect -छोटी आदतों का असर
  • Change your identity with habit- आदत से बदलें अपनी पहचान
  • Self-control करना सीखें
  • धीरे चलें लेकिन हमेशा आगे की ओर बढ़ें- go slowly but always move forward
  • The Law of Least Effort- न्यूनतम प्रयास का नियम

यह पुस्तक (Atomic Habit) छोटी आदतों और सुस्त बदलावों की महत्ता पर ध्यान केंद्रित करती है, जिनमें छोटे छोटे परिवर्तनों का बड़ा प्रभाव होता है, छोटे बदलावों में ही असली ताकत छिपी होती है। उनका कहना ​​है कि हमें अपनी आदतें सुधारने के लिए बड़े लक्ष्यों की बजाय छोटे और नियमित कदमों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, पहले -छोटी-छोटी आदतों को अपना चाहिए ।

atomic habits book review in hindi

कोई भी आदत चाहे वो अच्छी हो या बुरी उसके बनने में कुल 4 चरण होते हैं- सिग्नल, क्रेविंग, रिस्पांस व रिवार्ण,  Atomic Habits यह ऐसी छोटी-छोटी आदते हैं दो अपने के जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन ला सकती है, बस एक बार इन छोटी-छोटी आदतों को अना कर तो देखो ।

कोई भी आदत छोड़ना या पकड़ना हो दोनों में काफी समय और ढृढ़ इच्छा की जरूरत होती है इसके बिना बिल्कुल सम्भव नहीं है, जैसे की कोई भी आदत तो आप छोड़ना चाहते हैं जैसे वर्तमान समय में बहुत लोगों को धुम्रपना करने की आदत लगी है इसमें से कई लोग इसे छडना चाहते हैं परन्तु किसी न किसी वजह से नहीं छोड पाते क्योंकि वह इसमें अडिग नहीं रहते सोचते हैं कि चलो एक दिन से क्या होगा, आज कर लेते हैं कल से पक्का नहीं करेंगे परन्तु यही प्रतिदिन आपके साथ होगा और इस आदत को आप नहीं छोड़ सकते जब तक कि इसके लिये आप छोटे-छोटे कदम नहीं उठायेंगे,Atomic habit में इसे अच्छे से बताया गया है।

और किसी भी आदत को अपने अन्दर आपको लाना है तो इसके लिये भी सयम लगता है जैसे कि आपको जिम जाना है तो इसके लिए आपको छोटी-छोटी आदतो को अपनाना और दृढ इच्छा रखनी पडेगी तभी यह सम्भव हो पायेगा, इस किताब Atomic Habit में इन्ही आदतों के बारे में बताया और समझाया गया है, इस किताब में सॉयकोलॉजी और न्यूरोसाईस की सहायता से छोटी-छोटी आदतो को अपने अन्दर कैसे स्थापित किया जा सकता है, के बारे में बताया गया है।

What are Atomic Habits?

Atomic Habit एक अद्भूत सिद्धांत है, जो यह सीखाता है कि छोटी आदतें हमारे जीवन में बड़ा परिणाम ला सकती हैं। जेम्स क्लियर ने इसे “एटॉमिक हैबिट्स” कहा है क्योंकि ये छोटी होती हैं परन्तु इनका समय के साथ बहुत ही बड़ा परिणाम होता है।

Atomic habit वह छोटी-छोटी आदतें हैं जो हम रोज़मर्रा के जीवन में करते हैं, जो हमारे जीवन को सीधे रूप से प्रभावित करती हैं। इन्हें आदतों को जेम्स क्लियर ने अटॉमिक हैबिट्स का नाम दिया है, क्योंकि ये छोटी होती हैं लेकिन उनका परिणाम अत्यंत महत्वपूर्ण है।

 एक और महत्वपूर्ण विचार जो उन्होंने बताया है, वह है सुस्त बदलाव का महत्व। उनका कहना ​​है कि अगर हम सुस्त बदलाव को छोड़कर छोटे लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करते हैं, तो हम अच्छे नतीजे मिल कर सकते हैं। एक नियमित Atomic habit बनाने से हम अपने अन्दर क नए स्वभाव को बना सकते हैं और उसे स्थायी रूप से अपना सकते हैं।

किताब के कुछ प्रेरणादायक उद्धरण- Some inspirational quotes from the book?

Atomic habit जेम्स क्लियर की पुस्तक विचारशील और प्रेरणादायक उद्धारणों (Quotes) से भरी हुई है, जो मानव जीवन मे सकारात्मक परिवर्तन लाने की प्रेरणा प्रदान करते हैं। इस पुस्तक के कुछ महत्वपूर्ण उद्धरण (Quotes) निम्नलिखित है-

  • “तुम अपने लक्ष्यों के स्तर पर नहीं उठते हो, तुम अपने सिस्टम के स्तर पर गिरते हो।”
  • “तुम्हें अपनी वर्तमान प्रक्रिया से ज्यादा अपने वर्तमान परिणामों की चिंता करनी चाहिए।”
  • “तुम्हें अपने आस-पास के पर्यावरण का शिकार नहीं बनना चाहिए, तुम उसके शिल्पकार बनों ।”
  • “सफलता दैहिक आदतों का परिणाम है ।”
  • “तुम अपने भविष्य का निर्धारण नहीं करते हो, तुम अपनी आदतें निर्धारित करते हो, और तुम्हारी आदतें तुम्हारे भविष्य को निर्धारित करती हैं।”
  • “छोटे बदलाव अद्भुत परिणामों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।”
  • “यह समय की बात नहीं है, यह प्रयास की बात है। यदि तुम प्रयास करते रहोगे, तो तुम सफल होगे।”
  • “तुम बुरी आदतें मिटा नहीं सकते, उन्हें केवल बदल सकते हो।”
  • “लक्ष्य एक दिशा साधने के लिए अच्छे हैं, लेकिन प्रगति करने के लिए सिस्टम बेस्ट हैं।”
  • “यदि तुम्हें अपनी आदतें बदलने में कठिनाई हो रही है, तो समस्या तुम नहीं हो, समस्या तुम्हारा सिस्टम है।”

gyanbooster.in

हमें यह किताब क्यों पढ़नी चाहिए? Why should we read this book?

किसी भी किताब को से व्यक्ति अपनी सोच और समझदारी को  को विकसित करता है और नए दृष्टिकोण प्राप्त करता है, हम सभी को किताबे पढ़ने का शौक रखना चाहिए । जेम्स क्लियर द्वारा लिखित किताब Atomic habit के माध्यम से व्यक्ति को सही, सीधे और प्रभावी तरीके से अपनी आदतों को सुधारने की प्रेरणा मिलती है, जिससे उसका जीवन सकारात्मक और सफल दिशा की ओर अग्रसर होता है ।

पढ़ाई करने से अच्छी सोच, समझदारी, और सामाजिक जागरूकता बढ़ती है। Atomic Habit जैसी पुस्तकें समस्याओं का सामना करने और उन्हें हल करने के लिए प्रेरित करती हैं। इस तरह की पुस्तकों से ही हम अपने आदतों के बारे समझते हैं और बुरी आदतों को सही करने में मदद लेते है।

अगर हम पढ़ाई को सच्ची भूमिका दें, तो हम ज्ञान, सृजनात्मकता, और स्वयं सुधार की दिशा में बढ़ सकते हैं। Atomic habit” जैसी पुस्तकें हमें नए और सकारात्मक दृष्टिकोण प्रदान करती हैं, जो हमारे व्यक्तिगत और पेशेवर जीवन में सहायक हो सकती हैं, इसिलिये हमे इसे पढ़ना चाहिये अगर आप किताब पढ़ने के शौकिन हैं तो अपने Bookshelves में इस किताब को रख लिजिये ।


दोस्तो उम्मीद करते हैं यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी और इस किताब के बारे में आप अच्छे से समझ गये होगे , तो इस पोस्ट से सम्बन्धित जो भी सुझाव व सवाल हो आप हमें कमेंट कर सकत हैं ।


 आप हमे हमारे सोशल मिडिया पर फॉलो कर सकते हैं .

  1. Instagram

  2. Facebook

2 thoughts on “Atomic Habits book review in Hindi”

  1. Pingback: Think and grow rich book Summary/Review in Hindi - ज्ञान Booster

  2. Pingback: Arun Yogiraj जिसने बनाई रामलला की मूर्ति - ज्ञान Booster

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Samsung Galaxy M35 5G Launch, Price Kya hai ladla bhai yojna: सबको मिलेगा 10 हजार । ITI Admission 2024: कैसे प्रवेश ले सकते हैं ? ITI Admission Start 2024 Kling AI Kya hai ? Artificial Intelligence Open AI :Artificial Intelligence की अगली पीढ़ी Top Tools for SEO and blog post optimizations? Top 10 Artificial Intelligence Books in Hindi Domain Authority kaise badhayein Juice Jacking- एक साईबर हमला