gyanbooster logo
gyanbooster

आखिर कैसे बनी Google दुनियाँ की सबसे बड़ी कंम्पनी ?

आखिर कैसे बनी Google दुनियाँ की सबसे बड़ी कंम्पनी

Google जिसे आज हम दुनिया के सबसे बड़े और सबसे उपयोगी Search Engine के रूप में जानते हैं, की शुरुआत की कहानी काफी प्रेरणादायक और दिलचस्प है। गूगल की शुरुआत 1995 में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से हुई थी ।

लैरी पेज (LARRY PAGE) और सर्गेई ब्रिन जो उस समय पीएचडी के छात्र थे, ने एक साथ काम करना शुरू किया । वे वेब सर्चिंग (Web Searching) के क्षेत्र में कुछ नया और उपयोगी करना चाहते थे ।

लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने मिलकर एक सर्च इंजन बनाया जिसे उन्होंने “BackRub” नाम दिया । यह Search Engine वेबसाइटों के बैकलिंक्स को ट्रैक करने और उनकी प्रासंगिकता का आकलन करने पर आधारित था। यह विचार था कि वेबसाइटों के बीच के लिंक उनकी महत्वपूर्णता का संकेत होते हैं।

 

Google नाम कैसे पड़ा ?

1997 में, “BackRub” का नाम बदलकर “Google” रखा गया। यह नाम गणितीय शब्द “Googol” जिसका मतलब होता है 1 के बाद 100 शून्य , जो इंटरनेट पर भारी मात्रा में जानकारी को व्यवस्थित करने के उनके मिशन को दर्शाता है ।

1998 में लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने अपने सर्च इंजन के लिए एक बेसमेंट में काम करना शुरू किया । उन्होंने अपने प्रोफेसर डेविड फ़िलो (Yahoo के सह-संस्थापक) की सलाह पर इसे एक स्टार्टअप के रूप में स्थापित किया। 4 सितम्बर 1998 को Google को एक निजी कंपनी के रूप में शामिल किया गया ।

Google की स्थापना

Google की कहानी 1996 में शुरू होती है जब स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के दो पीएचडी छात्र लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने एक सर्च इंजन बनाने की पहल की । इस सर्च इंजन को प्रारंभ में “BackRub” कहा गया ।

गूगल का पहला ऑफिस मेनलो पार्क कैलिफोर्निया में एक मित्र के गैरेज में था । यहीं से गूगल ने अपने शुरुआती दिनों में काम किया और अपनी टीम का विस्तार किया ।

1998 में Google ने अपना पहला “डूडल” बनाया। यह बर्निंग मैन फेस्टिवल को दर्शाने वाला एक साधारण डूडल था, जिसे गूगल के होमपेज पर लगाया गया था। यह परंपरा अब भी जारी है और गूगल नियमित रूप से विशेष अवसरों और घटनाओं के लिए डूडल बनाता है। आप जो किसी अवसर या किसी बड़ी हस्ती के बारे में में Google कुछ पिक्चर अपने पेज पर लगाता है उसी को डूडल कहा जाता है ।

Google का एल्गोरिदम और सर्च इंजन उपयोगकर्ताओं के बीच तेजी से लोकप्रिय हो गया। इसके बाद, गूगल ने कई नए उत्पाद और सेवाएं लॉन्च कीं, जैसे गूगल ऐडवर्ड्स (विज्ञापन सेवा), Google Map, Gmail, Google Drive और YouTube का अधिग्रहण किया ।

google

गूगल (IPO) Initial Public Offering कब आया ?

2004 में Google ने अपना सार्वजनिक निर्गम (IPO) जारी किया और यह सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनी बन गई। इसके बाद गूगल का तेजी से विस्तार हुआ और यह एक वैश्विक तकनीकी दिग्गज बन गई।

गूगल ने न केवल Search Engine के क्षेत्र में बल्कि तकनीकी और सामाजिक क्षेत्रों में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया है। शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, और सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में गूगल की सेवाओं का व्यापक उपयोग होता है।

 

संस्थापकों का परिचय

लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन दोनों कंप्यूटर विज्ञान के छात्र थे और वेब सर्च के क्षेत्र में एक नई तकनीक पर काम कर रहे थे। उनके प्रयासों का परिणाम गूगल के रूप में सामने आया।

 

गूगल का पहला प्रोडक्ट

गूगल सर्च इंजन का विकास

गूगल का सर्च इंजन अपने अद्वितीय एल्गोरिदम Page Rank के लिए जाना जाता है, जो वेब पेजों को उनकी प्रासंगिकता के आधार पर रैंक करता है।

 

गूगल का पहला लोगो

गूगल का पहला लोगो बहुत साधारण था और इसे 1998 में स्थापित किया गया। यह लोगो गूगल के साधारण और उपयोगकर्ता-मित्र दृष्टिकोण को दर्शाता है।

Google

गूगल का विस्तार

गूगल एडवर्ड्स और विज्ञापन

2000 में गूगल ने गूगल एडवर्ड्स लॉन्च किया, जो एक ऑनलाइन विज्ञापन सेवा है। यह गूगल की प्रमुख राजस्व स्रोत बन गई है। इसी की सहायता से Google पैसे कमाता है ।

 

गूगल मैप्स का विकास

2005 में, गूगल ने गूगल मैप्स लॉन्च किया, जिसने लोगों को मार्गदर्शन और लोकेशन सेवाएं प्रदान करना शुरू किया।

 

YouTube का अधिग्रहण

  • 2006 में Google ने YouTube को 1.65 बिलियन डॉलर में खरीदा । YouTube अब दुनिया का सबसे बड़ा वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म है। 2005 में यूट्यूब की शुरुआत तीन पूर्व पेपाल कर्मचारियों – चाड हर्ले, स्टीव चेन, और जावेद करीम द्वारा की गई थी।
  • YouTube एक वीडियो-शेयरिंग वेबसाइट है जो उपयोगकर्ताओं को वीडियो अपलोड, देखने और साझा करने की अनुमति देती है। इसकी अनूठी अवधारणा और तेजी से बढ़ती लोकप्रियता ने इसे तकनीकी जगत में एक नया सितारा बना दिया।
  • यूट्यूब की जबरदस्त वृद्धि ने जल्द ही बड़ी तकनीकी कंपनियों का ध्यान आकर्षित किया, जिसमें गूगल भी शामिल था। गूगल ने यूट्यूब की क्षमता और इसके उपयोगकर्ता आधार की विशालता को पहचाना और इसे अपनी सेवाओं में शामिल करने का निर्णय लिया।
  • अक्टूबर 2006 में Google ने YouTube को 1.65 बिलियन डॉलर के स्टॉक सौदे में अधिग्रहित करने की घोषणा की। यह तकनीकी जगत के इतिहास में सबसे बड़े अधिग्रहणों में से एक था। इस अधिग्रहण ने गूगल को वीडियो-शेयरिंग और ऑनलाइन विज्ञापन के क्षेत्र में एक प्रमुख खिलाड़ी बना दिया।
  • Google के द्वारा YouTube के अधिग्रहण के बाद YouTube ने अपने प्लेटफॉर्म को और अधिक उपयोगकर्ता-मित्रवत और सुरक्षित बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण बदलाव और नवाचार किए । गूगल की तकनीकी विशेषज्ञता और संसाधनों के साथ, यूट्यूब ने अपने वीडियो स्ट्रीमिंग की गुणवत्ता में सुधार किया, नई सुविधाएं जोड़ीं, और अपने कंटेंट मॉडरेशन सिस्टम को मजबूत किया।
  • Google Adsence के साथ एकीकरण के माध्यम से YouTube ने अपने क्रिएटर्स के लिए मुद्रीकरण के नए अवसर प्रस्तुत किए, जिससे क्रिएटर्स को उनके वीडियो पर विज्ञापन से राजस्व प्राप्त हो सके, वो पैसे कमा सके । यह क्रिएटर्स को उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री बनाने और अधिक व्यापक दर्शकों तक पहुंचाने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • यूट्यूब का अधिग्रहण गूगल के लिए एक रणनीतिक कदम था, जिसने उसे डिजिटल कंटेंट और वीडियो विज्ञापन के क्षेत्र में एक प्रमुख स्थिति प्रदान की। आज, यूट्यूब न केवल गूगल के सबसे महत्वपूर्ण और लाभदायक उत्पादों में से एक है, बल्कि यह विश्वभर में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली वेबसाइटों में से भी एक है।
  • इस अधिग्रहण ने यूट्यूब को एक छोटे स्टार्टअप से एक विशाल वैश्विक मंच में बदल दिया, जो लाखों उपयोगकर्ताओं और क्रिएटर्स को जोड़ता है। यूट्यूब का विकास और सफलता गूगल के अधिग्रहण के बाद की गई रणनीतिक और तकनीकी सुधारों का प्रत्यक्ष परिणाम है।

gyanbooster

गूगल के प्रमुख उत्पाद और सेवाएं

Google Chrome

2008 में, गूगल ने अपना वेब ब्राउज़र, गूगल क्रोम लॉन्च किया, जो आज सबसे लोकप्रिय ब्राउज़रों में से एक है।

 

Google Drive

गूगल ड्राइव, जो 2012 में लॉन्च हुआ, एक क्लाउड स्टोरेज सेवा है जो उपयोगकर्ताओं को ऑनलाइन फाइल्स स्टोर और शेयर करने की सुविधा प्रदान करती है।

 

Google Photos

गूगल फोटोज, जो 2015 में लॉन्च हुआ, एक फोटो और वीडियो स्टोरेज सेवा है जो अपने उत्कृष्ट सर्च और ऑर्गनाइजेशन फीचर्स के लिए प्रसिद्ध है।

व्यवसायिक क्षेत्र में गूगल का प्रभाव

गूगल ने विभिन्न व्यावसायिक सेवाओं और टूल्स के माध्यम से छोटे और बड़े व्यवसायों को उनके कार्यों को अधिक प्रभावी बनाने में मदद की है।

 

गूगल का भविष्य

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में गूगल की भूमिका

गूगल ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) के क्षेत्र में महत्वपूर्ण प्रगति की है। गूगल के AI प्रोजेक्ट्स जैसे DeepMind और गूगल असिस्टेंट ने तकनीकी क्षेत्र में नई ऊँचाइयों को छुआ है।

 

  1. क्या आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस नौकरी खतम कर देगी ?

  2. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भविष्य ?

  3. क्या है कृतिम बुद्धिमत्ता What is Artificial Intelligence ?

 

youtube

गूगल के आगामी प्रोजेक्ट्स

गूगल का ध्यान अब भविष्य की तकनीकों पर है, जिसमें क्वांटम कंप्यूटिंग, सस्टेनेबल एनर्जी और हेल्थकेयर में AI का उपयोग शामिल है।

 

निष्कर्ष

गूगल की यात्रा एक छोटे सर्च इंजन से लेकर विश्व की सबसे बड़ी तकनीकी कंपनियों में से एक बनने तक प्रेरणादायक है। यह कंपनी अपने नवाचार, उत्पादों और सेवाओं के माध्यम से लगातार दुनिया को बदल रही है।

गूगल की शुरुआत की कहानी यह दर्शाती है कि कैसे दो छात्रों का एक छोटा सा आइडिया दुनिया को बदल सकता है। गूगल का विकास और सफलता उसकी निरंतर नवाचार, उपयोगकर्ता-केंद्रित दृष्टिकोण, और तकनीकी उत्कृष्टता का परिणाम है।

 

गूगल की यह प्रेरणादायक यात्रा हमें सिखाती है कि सही दृष्टिकोण और मेहनत से किसी भी विचार को हकीकत में बदला जा सकता है।

 

FAQs

गूगल की स्थापना कब और कहाँ हुई?

 

गूगल की स्थापना 1998 में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के दो छात्र लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने की थी।

गूगल का पहला प्रोडक्ट क्या था?

 

गूगल का पहला प्रोडक्ट उसका सर्च इंजन था, जो वेब पेजों को उनकी प्रासंगिकता के आधार पर रैंक करता था।

गूगल का सबसे बड़ा अधिग्रहण कौन सा था?

 

गूगल का सबसे बड़ा अधिग्रहण यूट्यूब था, जिसे 2006 में 1.65 बिलियन डॉलर में खरीदा गया था।

गूगल की कौन-कौन सी प्रमुख सेवाएँ हैं?

 

गूगल की प्रमुख सेवाएँ गूगल सर्च, गूगल मैप्स, गूगल क्रोम, गूगल ड्राइव, और गूगल फोटोज हैं।


इसे भी पढें

Artificial Intelligence – A Beginner’s Guide to Artificial Intelligence
One Web India 2.0 Kya Hai ?
Applications of Artificial Intelligence in Everyday Life
History of Artificial Intelligence

आप हमे हमारे सोशल मिडिया पर फॉलो कर सकते हैं .

  1. Instagram

  2. Facebook

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Samsung Galaxy M35 5G Launch, Price Kya hai ladla bhai yojna: सबको मिलेगा 10 हजार । ITI Admission 2024: कैसे प्रवेश ले सकते हैं ? ITI Admission Start 2024 Kling AI Kya hai ? Artificial Intelligence Open AI :Artificial Intelligence की अगली पीढ़ी Top Tools for SEO and blog post optimizations? Top 10 Artificial Intelligence Books in Hindi Domain Authority kaise badhayein Juice Jacking- एक साईबर हमला